पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021

0
cyz
बंगाल और असम में भाजपा के लिए जदयू बन रहा नुकसानदायक
फोटो – बंगाल और असम में भाजपा के लिए जदयू बन रहा नुकसानदायक

– बंगाल में नीतीश सरीखा किसी सशक्त राजनीतिज्ञ के सहयोग के बगैर भाजपा सरकार बनने की गुंजाइश नहीं

– औंधे मुंह बंगाल में गिरेगी भाजपा–गुलशन आरा

– बिहार की एनडीए गठबंधन की सरकार की नेतृत्वकर्ता जदयू ने भी वहां उतारे हैं अनेकों उम्मीदवार : लेकिन भाजपा से अलग होकर अकेले मैदान में है डटी

– बंगाल और असम में भाजपा के लिए जदयू बन रहा नुकसानदायक–राकेश कुमार

सीमांचल/उत्तर बंगाल ( अशोक / विशाल )।

असम और पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव में एकला भाग लेते हुए बिहार की भाजपा वाली एनडीए गठबंधन की सरकार की नेतृत्वकर्ता जदयू ने पश्चिम बंगाल और असम के विधानसभा चुनाव में अपने उम्मीदवारों को चुन चुन कर सिर्फ हिन्दू बाहुल्य विधानसभा क्षेत्रों में उतारा है और उसके कारण भाजपा को कई सीटों पर नुकसान पहुंचने की आशंका बलबती हुई है।

पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव की सरगर्मी के बीच यात्री के रूप में उस होकर सीमांचल लौटीं राजनीति के क्षेत्र में लोकप्रिय रहीं जोकीहाट(अररिया) की जिलापार्षद गुलशन आरा ने बताया कि पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी से वापसी के दौरान आम आवाम की चर्चाओं से उन्हें ठोस आभास हुआ है कि इस बार फिर से पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की ही सरकार स्थापित होगी और भाजपा उनसे कोसों दूर पीछे रह जायेगी।

दूसरी ओर , पूर्णिया सहित सीमांचल भर की जदयू की राजनीति में लगातार लोकप्रिय रहने वाले जदयू नेता और पूर्णिया विश्वविद्यालय के सीनेट सदस्य राकेश कुमार के अनुसार , पश्चिम बंगाल में भाजपा को जबतक बिहार जदयू के नेता नीतीश कुमार की तरह का कोई सशक्त सहयोगी व चाणक्य रूपी राजनीतिज्ञ नेता नहीं मिलेगा ,

तबतक , वहां की विधानसभा चुनाव में भाजपा को सरकार बनाने का अवसर प्राप्त नहीं होगा।
पश्चिम बंगाल के उत्तरदिनाजपुर जिले के पांजीपारा स्थित टीएमसी नेता राही प्रधान ने पहले चरण के मतदान के बाद दावा किया है कि बंगाल में इस बार भी ममता बनर्जी की सरकार का बनना तय है और भाजपा के किसी भी तरह के कुप्रचारों का पब्लिक में कोई असर नहीं पड़ रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.