महिलाओं को उनके अधिकारों के संबंध में दी जानकारी

0

फुलवारीशरीफ (प्रवेज आलम)

रविवार को आरोहंनम संस्था कि संस्थापक इल्सा फातमा ने महिलाओं के हित में कानुनी जागरूकता अभियान पर एक कार्यक्रम पटना के नुरानी बाग में रखा। उनहोनें कहा कि आरोहंनम एक संस्था है जो लोगों के विकास के लिए बढ़-चढ़ कर काम करती आ रही है और अभी यह संस्था बिहार के 15 शहरों में चल रही है और लोगों के हित में काफि तेजी से काम रही है।

लोगो को जानकारी देती एल्सा फात्मा

इलसा ने बताया कि समाज में रहने के लिए जागरूकता बहुत ही जरूरी है उनहोनें बच्चों को अच्छे और बुरें में फर्क बताया और किस तरह हमे अच्छाईयों कि ओर जाना चाहिए और लोगों कि परेशानियों को सुना और उसके समाधान के बारे में जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि महिलाओं को अब आवश्यकता है वे उनके साथ होने वाली हिंसा के प्रति आवाज उठाएं। अपनी रिपोर्ट दर्ज करवाए व सुरक्षित रहें। उनके लिए निशुल्क कानूनी सहायता का प्रावधान है। वे अपने अधिकारों की सुविधाओं के प्रति जागरूक हो। उन्होंने महिलाओं को बताया कि हिंसा के विरुद्ध डटकर मुकाबला करना चाहिए ताकि भविष्य में उनके खिलाफ किसी प्रकार की हिंसा न हो।

अधिवक्ता शबनम  ने बताया कि भारत में तकनीकी प्रगति ओर महिलाओं के विरुद्ध हिंसा साथ-साथ चल रहे हैं, यह सही नहीं है। दहेज प्रथाएं यौन उत्पीड़न महिला को घर से मारपीट कर बाहर निकाल देना व नाबालिग बच्चियों से राह चलते छेड़छाड़, बलात्कार, अपहरण, शारीरिक व मानसिक शोषण जैसी घटनाएं समाज में हिंसा को बढ़ावा दे रही हैं।

इन सभी अपराधों को भारतीय दंड संहिता के अनुसार अपराध की श्रेणी में रखा गया है। इस मौके पर मालु, विक्की, साहिन समेत अन्य लोग मौजुद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.