अंतरराष्ट्रिय

राजनीती

देश विदेश

किसान आंदोलन: भारत का एक आंतरिक मामला क्यों है ?

किसान आन्दोलन को तार तार करने की तैयारी Email: [email protected] लेखक “आसिफ रमीज़ दाउदी” एक प्रख्यात विद्वान, एक समर्पित सामाजिक कार्यकर्ता और विभिन्न टीवी चैनलों के मीडिया पैनलिस्ट हैं और किंग अब्दुल अजीज विश्वविद्यालय, जद्दा,…

मसौढ़ी में छात्र-छात्राओं के बीच सघन सदस्यता अभियान

फुलवारीशरीफ (प्रवेज आलम) ऑल इण्डिया स्टूडेंट्स फेडरेशन (एआईएसएफ)  ने मसौढ़ी में छात्र-छात्राओं के बीच सघन सदस्यता अभियान चलाया। संगठन की सदस्यता केलिए छात्र-छात्राओं में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है। बताते चलें कि एआईएसएफ का…

पाल समाज की बैठक में सत्ता में हिस्सेदारी की मांग उठी, 24 जनवरी को पटना में होगा विशाल मिलन समारोह

परवेज़ आलम (फुलवारी शरीफ) पटना के सिपारा बाईपास इलाके में पाल एकता मंच की समीक्षा बैठक हुई। इसमें सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि पाल एकता मंच के प्रदेश अध्यक्ष प्रफुल्ल चन्द्रा के नेतृत्व में पूरे बिहार में पाल समाज के लोगों को एकजुट…

विधालय खुलने के घोषणा के बाद से बच्चो में उत्साह

परवेज़ आलम (फुलवारी शरीफ) प्रेमालोक मिशन स्कूल में विद्यालय खुलने की तैयारी दिखने लगी है | विधालय के बच्चे उत्साहित है की सरकार ने उनकी भी सुन ली है और अब कोरोना से लड़ते हुए बच्चो को अपने स्वर्णिम भविष्य तय करने और सपनों की उड़ान भरने…

क्राइम

कानून देर सबेर अपना काम करेगा, लेकिन देखने वाली बात होगी कि राजनीति क्या गुल खिलायेगा सीमांचल/कटिहार(अशोक कुमार)। बिहार विधानसभा के चालू मानसून सत्र के दौरान एक ओर जहां संपूर्ण सीमांचल के जनप्रतिनिधियों के द्वारा सीमांचल में जारी बाढ़ और कटावलीला से मुक्ति दिलाने की जुबानी जंग बिहार विधानसभा…
Read More...

जोकीहाट – बिहार फिर थर्राया मॉब लिंचिंग से

बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी, अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन “श्री मिन्नत रहमानी” ने तुरंत वास्तुस्तिथि से अवगत होकर पीड़ित को इन्साफ दिलाने के लिए एक प्रतिनिधिमंडल गठित कर मिलने भेजा है जोकीहाट मॉब लिंचिंग मामले में बिहार कांग्रेस…

पूर्णिया से किशनगंज तक की दलित उत्पीड़न वाली घटनाओं का हुआ पटाक्षेप

त्वरित पुलिस अनुसंधान की पारदर्शिता से किशनगंज और पूर्णिया में सदभाव बिगाड़ने की कोशिश करने वाले तत्वों की नहीं गली दाल फोटो - किशनगंज एसपी कुमार आशीष एवं पूर्णिया एसपी दयाशंकर सीमांचल ( अशोक कुमार )। भले ही बिहार में एक बार फिर…

पूर्णिया जिले के बायसी में घटित दलित उत्पीड़न की घटना

वास्तविकता से परे की वर्तमान राजनीतिक चलन को तूल देने पर आमादा बायसी से बाहर के नेतागण कर रहे हैं दिग्भ्रमित कराने वाली राजनीति, लोकल बायसी के राजनीतिक दलों के नेताओं की बरकरार है चुप्पी मीडिया भी है मौन :: कभी राजद विधायक के कार्यकाल…

किसान आंदोलन: भारत का एक आंतरिक मामला क्यों है ?

किसान आन्दोलन को तार तार करने की तैयारी Email: [email protected] लेखक “आसिफ रमीज़ दाउदी” एक प्रख्यात विद्वान, एक समर्पित सामाजिक कार्यकर्ता और विभिन्न टीवी चैनलों के मीडिया पैनलिस्ट हैं और किंग अब्दुल अजीज विश्वविद्यालय, जद्दा,…