बिहार मुख्य खबर राजनीती राज्य राष्ट्रिय

बिना मेडिकल प्लान कैसे लड़ेंगे कोरोना महामारी से, यूथ कांग्रेस अध्यक्ष ने बाल मुंडवा कर जताया विरोध

सीतामढ़ी यूथ कांग्रेस अध्यक्ष मो० शम्स
फोटो – सीतामढ़ी यूथ कांग्रेस अध्यक्ष मो० शम्स ने बाल मुंडवा कर किया विरोध

केंद्र सरकार से गरीबों के लिए आर्थिक पैकेज जारी करने की मांग

सीतामढ़ी से कलीम अख्तर शफीक की रिपाेर्ट

पूरी दुनिया को अपने चपेट में ले चुकी कोरोना महामारी को लेकर केंद्र की मोदी सरकार द्वारा 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा के बाद जहां पुलिस-प्रशासन आमलोगों को घरों में रहने को कह रही है, वहीं इस महामारी को लेकर आमलोगों के में दहशत का माहौल है।

लोगों को उम्मीद थी कि मंगलवार रात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब राष्ट्र को संबोधित करेंगे तो देशवासियों के सामने मेडिकल एक्शन प्लान और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए पैकेज का ऐलान करेंगे। लेकिन उन्हें सिर्फ और सिर्फ आश्वासन मिला।

इसका विरोध सीतामढ़ी जिला युवा कांग्रेस अध्यक्ष मो.शम्स शाहनवाज ने बाल मुड़वा कर किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के त्याग करने की अपील का देशवासी समर्थन करते हैं और उसी को सांकेतिक तौर पर दिखाने के लिए मैंने बाल मुंडवाया है।

लेकिन क्या सिर्फ लॉकडाउन का ऐलान कर देने से हम इस लड़ाई को जीत लेंगे।

शम्स ने कहा कि दिहाड़ी मज़दूरों और बीपीएल परिवारों को एक माह का राशन देने की घोषणा नीतीश सरकार ने की थी, लेकिन अनाज मिलने से पहले लॉक डाउन की घोषणा कर दी गई।

यहां तक ​​कि हेल्थकेयर के लिए 15,000 करोड़ रुपये का पैकेज बहुत कम है। सरकार को गरीबों, दिहाड़ी मजदूरों, कृषि श्रमिकों, स्वरोजगार करने वालों आदि की जेबों में नकदी डालने की तत्काल जरूरत है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि लॉकडाउन के दौरान उन्हें आवश्यक आपूर्ति हो और लोग भूखे न मरें।

शम्स ने कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा 2019 में प्रस्तावित न्याय या न्यूनतम बुनियादी आय योजना इस समय में बेहद लाभदायक होगी।

यह गरीबों और निशक्तों को मासिक एकमुश्त राशि प्रदान करेगी। पहले से ही दुनिया भर में इस तरह की मांग होती रही है। यहां तक ​​कि भाजपा समर्थक भी अब इसका समर्थन कर रहे हैं।

मोदी सरकार को कोविड 19 से हो रहे आर्थिक नुकसान को रोकने के लिए बिना देरी किए न्याय को लागू करना चाहिए।इसके अलावा, हमारे डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों को उचित उपकरण और सुविधाओं के बुनियादी ढांचे के रूप में न्याय मिलना चाहिए, ताकि इस प्रयत्नशील समय में उनके काम को आसान बनाया जा सके।

इतना ही नहीं, कोरोना महामारी से निपटने के लिए केंद्र एवं राज्य सरकार के मेडिकल एक्शन प्लान के बारे में भी जनता को कोई खास जानकारी नहीं दी गई है।

युवा कांग्रेस अध्यक्ष मो.शम्स ने गरीबों के लिए आर्थिक सहायता और देशवासियों की सुरक्षा के लिए मेडिकल एक्शन प्लान अविलंब जारी करने की मांग की है।

 331 total views,  2 views today