बिहार मुख्य खबर राजनीती राज्य राष्ट्रिय

मधुबनी अनिश्चितकालीन धरना में छात्र नेताओं समावरा

मधुबनी के क्रांतिकारी नौजवानो के संघर्ष को सलाम-मशकुर उस्मानी

मधुबनी से एनायतुल्लाह नदवी की रिपोर्ट

विगत 7 जनवरी से मधुबनी समाहरणालय के सामने संविधान निर्माता बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर जी के मूर्ति के पास अनिश्चितकालीन धरना पर बैठे लोगों के समर्थन में देश के बड़े बड़े यूनिवर्सिटी के छात्र नेताओं का समर्थन मिलने से धरना अस्थल पर लोगों की भीड़ काफी बढ़ती जा रही हैं।

ये अनिश्चितकालीन धरना संविधान बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक तुल्लाह खान एवं युवा नेता परवेज हसन दानिश की अध्यक्षता में छात्र नेता फहीम बकर मुसा के सहयोग से नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में 7 जनवरी 2020 को बैठें थे लेकिन धीरे धीरे धरना के समर्थन में तमाम विपक्षी दलों एवं नेताओं का समर्थन मिलने से ये धरना बहुत बड़ा हों गया है।

धरना को संबोधित करते हुए अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के पूर्व अध्यक्ष मसकुर उस्मानी , एसडीपीआई के उपाध्यक्ष नूरुद्दीन जंगी, जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्र नेता सैफुल इस्लाम, मौलाना आजाद यूनिवर्सिटी के छात्र नेता सैफुल रहमान, जवाहर लाल यूनिवर्सिटी के छात्र नेता डाक्टर हिफजुर्रहमान, ने संबोधित किया

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के पूर्व अध्यक्ष मसकुर उस्मानी , एसडीपीआई के उपाध्यक्ष नूरुद्दीन जंगी, जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्र नेता सैफुल इस्लाम, मौलाना आजाद यूनिवर्सिटी के छात्र नेता सैफुल रहमान, जवाहर लाल यूनिवर्सिटी के छात्र नेता डाक्टर हिफजुर्रहमान, एवं किन्नर जाती के सामाजिक कार्यकर्ता लोग भी शामिल हों रहें हैं।

धरना को जेपी सेनानी हनुमान प्रसाद राउत, लाल बहादुर सिंह, भारतीय मित्र पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष धनेश्वर महतो, मधुबनी नगर के पूर्व विधानसभा प्रत्याशी असलम अंसारी, पूर्व पार्षद समिउर रहमान मुंसी, इंद्रजीत कुमार, रहमत आजम राशिद खलिल,मरीना प्रवीण, इत्यादि लोगों ने संबोधित किया

 149 total views,  2 views today