सोनबरसा प्रखंड के भुतही निवासी एक अलग किस्म का कददु उपजा रहे हैं

सीतामढ़ी से कलीम अख्तर शफीक की रिपोर्ट

सोनबरसा प्रखंड के भुतही निवासी 41 वर्षीय देव शरण पंजियार के पुत्र राजेश पंजियार एक अलग किस्म का कददु उपजा रहे हैं । 2008 से इंटर साइंस से पास करने के बाद किसान बन गए।

किसान परिवार मे जन्मे राजेश पढाई पुरी करने बाद कुछ सालों तक बेरोजगार रहे, उसके बाद उन्होंने सोचा उननत किस्म की खेती क्यो न किया जाए। पैतरिक साढे पांच एकड़ भूमि इनहें मिली इस पर स्वयं खेती का काम शुरू कर दिया।

लीक से हटकर खेती करने की सोंच के साथ दुसरे जगहों से पौधा और बीज लाकर खेती शुरू की। इसी बीच फैजाबाद अनुसंधान केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक शिव पुजन सिंह के द्वारा तैयार कददु का बीज गोरखपुर अनुसंधान केंद्र के वैगयानिक डॉ वैधनाथ सिंह मंगवाया ।

यह कददु 6 फीट से 7 फीट तक होता है। 15 जुन के बाद बीज रोपते है ,जो अकटुबर से अपरैल तक फलता है। कददु के साथ ही करेला, बैगन और सीताफल भी उपजाते है।

किसान राजेश ने कहा कि हम खेती से अपनी बेरोजगारी दूर कर जीविका का मुख्य संसाधन बनाना चाहते हैं। हमे अच्छे बीज और समय से खेती करना चाहिए, ताकि अच्छा और उननत किस्म का सब्जी और अनाज उपजा सके।

बिहार बागवानी विकास सोसाइटी, पटना द्वारा आयोजित तरकारी महोत्सव 2020 में जाकर अपने कददु का प्रदर्शन किया। सब्जी के साथ ही उननत किस्म के फलदार आम, जामुन का पेड भी लगा चुके हैं।