मौलाना आजाद रिसर्च फौनडेशन – फुलवारीशरीफ पहुंचे विधायक श्री श्याम रजक बताया CAA, NPR और NRC पर नीतीश कुमार की क्या है सोच !

Dr. M. A. Ibrahimi IAS, Minister Shayam Razak,

बिहार के बुद्धिजीवी और ओलमाओं ने एक संगोष्टीही का आयोजन किया, जिसमे यह मंथन करने की कोशिश हुई की देश एक ख़राब दौर से गुज़र रहा है तथा नागरिकता कानून को कैसे निपटारा किया जाये, जिसमे स्थानीय विधयक एवं जदयू के मंत्री शयाम रजक को बुलाया गया । बिहार के जाने माने अल्पसंख्यक बुद्धिजीवियों ने उनसे जानना-समझना चहा नितीश कुमार जी की क्या सोच है ?

NPR के सम्बन्ध में उन्होंने विस्तार से जानकारी दी तथा सी एम नीतीश कुमार के सोच को विस्तार से बता दिया और मिटिग में सर्वसम्मति से सहमति बनी की इस सम्बन्ध में अब बिहार के लोगो को भी सड़कों पर उतरने का समय आ गया है। सभी दलों के विधायकों और सांसदों तथा पार्टी के अध्यक्षयो से प्रतिनिधि बनाकर भी बात की जाएगी और सारे राजनेताओ से सहयोग मांगा जायेगा ।

जो लोग भारत के संविधान बचाने के मुहीम में हमारा साथ देंगे, उनका हम स्वागत करेंगे और जो लोग नहीं नहीं साथ देंगे उन लोगों को वोट के द्वारा जवाब दिया जायेगा ।

इस मिटिग में एक अहम् बात यह रही की अब NPR जब हो सरकार जातियों के आधार का भी जनगणना करे यह मुद्दा लोहिया जी के समय से चली आ रही है और NPR से पुरे भारत की जनता प्रभावित होगी खास कर दबे और अतिपिछड़े जातियों के लोग होंगे।

लोगों का मानना है कि 80% जनता NPR के फार्म को पुरा भर नहीं पायेंगे और आसाम की तरह पुरे देश में अफरा तफरी मच जायेगी इस लिए इस कानुन का लोग वहिष्कार करें और हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई सभी धर्मों के लोगों को इस काले कानुन के बारे में जानकारी देंगे ।