Amrit Bhulla

नक्सलि बताकर निर्दोषों अमृत भुल्ला को जमुई पुलिस किया एनकाउंटर

जमुई – शनिवार दिनांक 4 जनवरी को दिन 1 बजे झारखंड के गिरिडीह जिला के लोकाय थाना के नेयाडीह गांव के स्वर्गीय शनिचर भुल्ला जो अमृत भुल्ला का फूफा घर है जहाँ वह रह कर मजदूरी का काम करता था दिन के 1 बजे काम छोड़ कर खाना खाने घर आया था उसी बीच अमृत भुल्ला को कोबरा बटालियन 207 के जवानों ने पकड़ा लिया

नक्सलि बताकर निर्दोषों अमृत भुल्ला को जमुई पुलिस किया एनकाउंटर
  • 32वर्षी नवयुवक अमृत भुल्ला को फर्जी मुठभेड़ कर मारा गोली-बाबू साहब

फिर उसी दिन 4 बजे  शाम को अमृत भुल्ला को पुलिस लेकर जमुई जिला अंतर्गत खैरा थाना के गोली गांव पहुँचा और फिर जंगल होते हुए वहा से वापस चल गया फिर अगले दिन रविवार 5  जनवरी के सुबह जो अमृत भुल्ला के साथ करीब 60 मोटरसाइकिल सवार पुलिस और दो बोलोरो गाड़ी लेकर अमृत भुल्ला के घर गोली गांव होते हुए जंगल ले गया

और दिनभर जंगल घुमाने के बाद करीब शाम 5 बजे के आश पास झारखंड बिहार के सीमा से सटे मर्जों पहाड़ के गुफा में अमृत भुल्ला को उस गुफा में भेज कर पुलिस ने पीछे से बारी बारी कर 13 राउण्ड गोली चला कर उनकी हत्त्या कर दिया जिससे ग्रामीण लोगो मे भय का माहौल है

इसी बीच भाकपा माले के जिला सचिव शम्भु शरण सिंह, आइसा के प्रदेश उपाध्यक्ष बाबू साहब, ऐक्टू के जिला प्रभारी बासुदेब राय, समर सोरेन, विजय सोरेन, चुरो राय, शनिचर कोड, के नेतृत्व में सात सदस्यीय जांच टीम गोली गांव पहुँचा ओर वहा के सैकड़ों लोगो से इस घटना की जानकारी लिया मोके पर भाकपा माले के जिला सचिव शम्भु शरण ने कहा कि पुलिस इस प्रकार निर्दोष ओर गरीब लोगो को नक्सलि बता कर हत्या कर रही हैं

जिससे पुलिस का फ़ासिस्ट चरित्र उजागर हो रहा है इस सवाल को लेकर जुल्मी पुलिस के खिलाफ भाकपा माले दिनांक 13 जनवरी को जमुई जिला समाहरणालय के समक्ष  धरना प्रदर्शन करेगा मौके पर उपस्थित, अमृत भुल्ला की पत्नी सुनीता देवी,उनकी माँ जशोदा देवी,फुआ चंपा देवी,टेकन राय, सुगदेब रॉय, अर्जुन कोड,दसो राय, दिनेश रॉय, सहित दर्जनों लोग था