अलीगंज प्रखंड के लोगो ने किया CAA-NRC-NPR के खिलाफ जबरदस्त विरोध, रच दिया इतिहास

जमुई । इस्लाम नगर अलीगंज प्रखंड में आज सीएए, एनआरसी और एनपीआर जैसे काले और क्रूर कानून के खिलाफ  सभी समुदाय के लोगों द्वारा एक विशाल विरोध मार्च का आयोजन किया गया।  प्रखंड स्तर पर हज्ज़रो हज़ार की संख्या में लोगों ने भाग लिया और जुलूस को सफल बनाने का काम किया । यह जुलूस अलीगंज बी आर सी से लेकर दरखा मोड़ तक गया यह जुलूस शांतिपूर्ण तरीके से निकालने के लिए जिले के बुद्धिजीवीयो की आम राय यही बनी थी की इस विरोध प्रदर्शन को कोई बदनाम न कर सके ।

फोटो – रैली में अलीगंज की जनता
  • कानून वापस ना होने तक आंदोलन रहेगा जारी ।
  • सभी ने यह प्रण किया की NRC/NPR के लिए किसी भी तरह का दस्तावेज नहीं जमा करेगे चाहे डिटेंशन सेण्टर क्यों न जाना पड़े ।
  • यह पूरा विरोध मार्च स्वतः सभी समुदाय के द्वारा निकाला गया बाद में कई राजनितिक पार्टी ने दिया समर्थन ।
  • लोगों ने प्रखंड विकास पदाधिकारी के द्वारा महामहिम राष्ट्रपति को ज्ञापन सौपा ।
SULTAN-AKHTAR

अलीगंज से मोहम्मद सुल्तान अख्तर की रिपोर्ट

विरोध प्रदर्शन जुलूस में भीम आर्मी, जन अधिकार पार्टी, राजद, कांग्रेस पार्टी,  RLSP के प्रदर्शनकारियों और समर्थकों ने भी भाग लिया। इस मौके पर प्रखंड के गण्यमान लोगो ने अपने विचार रखें, मुफ्ती अब्दुल्ला ज़ाहिर, ओबैदुल्लाह खान, तौहीद खान, राजेश पासवान, सुनील सिंह ब्लॉक अध्यक्ष कॉमन्स सहित कई लोगो ने NRC/ CAA एवं NPR के खिलाफ अपने ग़मो और गुस्से का इज़हार किया । पूरी विरोध मार्च  में सभी धर्मों के लोगों ने खुद मोर्चा सँभालते हुए अराजकता फैलाने वालों पर विशेष नज़र रखी और हज्ज़रो हज़ार की संख्या में सुदूर गाँव से शामिल हुए लोगों को विश्वास में लेकर पुरे आन्दोलंन को सफल और शांतिपूर्ण बनाया गया ।

आप सभी को मालूम होना चाहिए की अब जो भी NRC/ CAA एवं NPR का विरोध करता है उसपर अराजक तत्व जो NRC/ CAA एवं NPR का समर्थन कर रहे है, पत्थरबाजी और गोली चला कर इस स्वतः उभरे हुए आन्दोलन को को बदनाम करने की साजिश रच रहे है, पटना के फुलवारी शरीफ में NRC/ CAA एवं NPR के विरुद्ध शांतिपूर्वक जुलुस पर अराजक तत्वों के द्वारा पत्थर, गोली और चाकू से हमला किया गया, औरंगाबाद में अराजक तत्वों द्वारा जुलुस पर पत्थर चलाया गया और फिर  पुलिस की बर्बरता बस एक ही समुदाय पर की गई । ऐसे कई उदहारण देश भर से सुनने में आ रही है, जहाँ जहाँ भाजपा की सरकार है वहां वहां NRC/ CAA एवं NPR के विरुद्ध शांतिपूर्ण आन्दोलंन को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है । इन सबके बावजूद शांतिपूर्ण विरोध आन्दोलन सफलता पूर्वक समापन के लिए अलीगंज प्रखंड की जनता और प्रखंड के अधिकारी प्रशंसा के पात्र है ।

हमारे संवाददाता ने बताया कि NRC/ CAA एवं NPR के विरुद्ध अलीगंज प्रखंड का आन्दोलन पूरी तरह से सफल और इतिहासिक रही, साथ साथ बताते चले की लोगो ने प्रखंड स्तर पर इस तरह का जूनून और भीड़ पहले कभी नहीं देखा गया था, अलीगंज प्रखंड की जनता ने इतिहास रच दिया । बड़ी संख्या में सभी समुदाय के लोग  विरोध जुलूस में शामिल हुए, जिन्होंने कहा कि इंशाअल्लाह हमारे साथ एक दिन बिताएंगे। .और सफल होंगे और फासीवादी ताकतें को खत्म करेंगे। सभो ने अपने अपने विचार रखे।

जिला के लोगो ने  प्रखण्ड विकास पदाधिकारी के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति को अपनी ज्ञापन सौंपी जो निम्न प्रकार है । 

हमलोग आज दिनांक 30-12-2019 दिन सोमवार को अलीगंज प्रखण्ड कार्यालय में हजारों कि संख्या में जमा होकर CAB नागरिक संसोधन विधेयक, NRC/ NPR जो संविधान कि भावना और इसकी मूलभूत संरचना का उल्लंघन करता है के विरुद्ध विरोध प्रदर्शन करते हुए मागें कि है वह इस प्रकार है।

1.     यह कि नागरिक संसोधन विधेयक देश के संविधान की मूलभूत भावनाओं के खिलाफ है इस कानून को किसी भी कीमत पर बरदास्त नही किया जाएगा इस कानून से धार्मिक कट्टरता को बढ़ावा मिलेगा और देश के लोगों को बाँटने का काम करेगा।

2.     यह कि भारतीय संविधान के अनुच्छेद 14 और 15 में हर व्यक्ति को कानून में समानता और बराबरी दी गई है और राज्य के किसी भी व्यक्ति के प्रति उसके धर्म, जाति या पंथ के आधार पर कानून के सामने दुर्व्यहार करने से रोका गया है। ऐसा करना समानता के मूल सिद्धान्त के विरुद्ध है। संसद के दोनों सदनों द्वारा पारित यह काला कानून संविधान कि भावना और इसकी मूल संरचना का उल्लंघन करता है।

3.     यह कि यह विधेयक धर्म के आधार पर नागरिकता को विभाजित करने वाला है, देश का संविधान सभी धर्म के लोगों को समान व्यवहार करने के लिए वचनवद्ध है यह विधेयक संविधान कि भावना और इसकी मूल संरचना का उल्लंघन करता है।

अतः प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा महामहिम राष्ट्रपति महोदय से अपील करते हैं कि इस कानून के माध्यम से लोगों के साथ अन्याय और सम्प्रदायिक्ता के लक्ष्य को रोकने के लिए अपना गरीमापूर्ण पद के प्रभाव को उपयोग करें। इसके लिए हम सब प्रखण्डवासी आपका आभारी रहूँगा।